एडवांस हेयर थैरेपी प्लेटलेट रिच प्लाज्मा

एडवांस हेयर थैरेपी प्लेटलेट रिच प्लाज्मा

By:शिल्पी रस्तोगी
हेयर सुंदर,शाइनी होने से सिर्फ हेयर की ही खूबसूरती नहीं बढ़ती बल्कि आपका पूरा व्यक्तित्व ही निखर उठता है. बालों की अहमियत नारी हो चाहे नर या फिर युवा जेनरेशन सबके लिए एक सा ही महत्व है, लेकिन आजकल बढ़ता प्रदूषण साथ ही नए नए हेयर स्टाइल स्टेटमेंट के कारण गिरते बाल आपके बालों के सौंदर्य को चुरा लेते है. ऐसे में आपकी स्मार्टनेस कम होने लगती है और फिर आप कभी डाक्टर तो कभी घरेलू रेमेडीज और कभी मंहगी हेयर थैरेपीज इसके अलावा पेनफुल सर्जरीज इन सबका प्रयोग करते हैं लेकिन नतीजा वहीं गिरते बाल. लेकिन अब आपको हेयर फाल की समस्या से घबराने की कोई आवष्यकता नहीं है क्योकि, अब एक नई एडवांस हेयर थैरेपी ‘‘प्लेटलेट रिच प्लाज्मा’’ हेयर लाॅस की समस्या को दूर करेगी और बालों को स्वस्थ,घने और चमकदार बनाने में मददगार होगी.
प्लेटलेट रिच प्लाज्मा थैरेपी


जिसे ‘पी आर पी’ भी कहा जाता है. इस थैरेपी का प्रयोग बालों को फिर से प्राप्त करने के लिए किया जाता है. यह पुरूषों और महिलाओं दोनो के लिए ही सामान रूप से की जाती है. इसे पूर्णतया स्वाभाविक तरीके से किया जाता है, इसीलिए यह नाॅन सर्जिकल है. यह एक इंजेक्टेबल टीटमेंट है जिसमें कि पेषेंट के अपने ही ब्लड का प्रयोग किया जाता है. हमारे ब्लड प्लाज्मा कुछ ऐसे सक्रिय ग्रोथ फेक्टर को रखते हैं जोकि हेयर ग्रोथ की वृद्वि में सहायक होते हैं. इस थैरेपी को हेयर ग्रोथ के लिए अकेले भी प्रयोग कर सकते हैं और यदि चाहे तो इसे किसी अन्य हेयर टांसप्लांट या सर्जरी के साथ भी कर सकते हैं.यह हेयर लाॅस के लिए एक सशक्त व स्वाभाविक टीटमेंट है, इसके लिए डेली पिल्स या कैमिकल लोशन इत्यादि की कोई आवष्यकता नहीं होती जैसी कि अन्य टीटमेंट के बाद होती है.
लाभ
नाॅन सर्जिकल है,मल्टीपल इंजेक्षन प्रकिृया में लगभग 60 से 90 मिनट लगते हैं. सुरक्षित होने के ही साथ विष्वसनीय परिणाम मिलते है. जल्दी रिकवरी होती है.
कैसे करते हैं




इस प्रकिृया में चिकित्सक पेशेंट का ही थोड़ा सा ब्लड लेते हैं, और उसे स्कैल्प और आस पास के एरिया में स्पेषल माइक्रो निडिल से इंजेक्ट कर देते हैं. सबसे महत्तवपूर्ण तथ्य
यह थैरेपी केवल तभी की जा सकती है जबकि आपके शरीर में रेड ब्लड सेल जोकि आॅक्सीजन को ले जाने का कार्य करती है। वाइट ब्लड सेल जो इंफेक्शन और बीमारियों से लड़ने में मददगार है व प्लेटलेटस यह डेमेज व चोटो को रिपेयर करने में अहम भूमिका निभाती है, प्लाज्मा जल और पोण तत्वों को रखता है। इन सभी की शरीर में पर्याप्त मात्रा का होना जरूरी है. तभी इस टीटमेंट का लाभ उठाया जा सकता है.
बाॅक्स डर्मेटोलाॅस्टि डा दीपाली भारद्वाज का कहना है कि, वह पिछले 6 साल से वह प्लेटलेट रिच प्लाज्मा थैरेपी कर रही हैं और यह काफी प्रभावकारी थैरेपी है. इस समय यह खूब पंसद की जा रही है और लोग इसे इस वक्त करा भी अधिक रहे हैं. नैचुरल प्रासेस है तो कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है। पेशेंट का ही ब्लड इसमें यूज किया जाता है तो किसी इंफेक्शन का भी कोई डर नहीं होता.