सीरिया एंबेसी को घेरा मजलिस के शेरों ने,सीरिया में रूसी विमान क्रैश 32 की मौत |

सीरिया एंबेसी को घेरा मजलिस के शेरों ने,सीरिया में रूसी विमान क्रैश 32 की मौत |

नई दिल्ली/मास्को:जहाँ देश में एक तरफ सीरिया में मारे जा रहे लोगो के लिए दिल्ली में कुल हिन्द मजलिस इत्तेहादुल मुसलमीन के देश भर से आए भारी तादात में कार्यकर्ता एक तरफ सीरिया की एम्बेसी का घेराव कर रहे थे,तो वहां दूसरी तरफ सीरिया में एक रूसी परिवहन विमान खमेइमिम एयरबेस के पास लैंडिंग करने की तेयारी कर रहा था जिसमे में छह चालक दल के सदस्यों सहित कुल 32 लोग सवार थे,वीडियो देखने के लिए नीचे फोटो पर किलिक करें |विमान की तस्वीर प्रतीकात्मक है!एक ओर लोग पूरी दुनिया में सीरिया के लोगो के लिए दुआएं मांग रहे थे.तो वहीँ रूसी विमान AN26 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट खमेइमिम एयरबेस की तरफ बढ़ रहा था,


वहीँ रूसी रक्षा मंत्रालय के मुताबिक लगभग 3 बजे थे, तो दूसरी तरफ मासूम बच्चो की सिसकियों की आवाज़ से हर अमन पसंद बाशिंदा तड़प रहा था,शोशल मीडिया की तस्वीरें देख कर कलेजा छलनी होता जा रहा था, इस दर्द को महसूस करने वाले लोग अपने जिंदा होने का सबूत देने के लिए दुनिया के हर कोने में आवाज़ उठा रहे थे, जिसमे भारत की राजधानी दिल्ली भी शामिल है,
ओर उसमे शामिल है असदुद्दीन ओवैसी के जाबाज़ सिपाही, जिन्होंने सीरिया की एंबेसी को घेर रखा था जिसमे दिल्ली एन सी आर ओर उत्तर प्रदेश के कार्यकर्त्ता शामिल थे,
दिल्ली के असमान में सूरज की तपिश कम होने लगी सभी कार्यकता वापस जाने की तेयारी करने लगे,

तभी रूसी रक्षा मंत्रालय को ATC से एक दुखद ख़बर मिली,जिसमे बताया गया के करीब 3 बजे रूस का AN-26 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट खमेइमिम एयरबेस के पास लैंडिंग के दौरान क्रैश हो गया है, प्लेन में सवार सभी लोगों की मौत हो गई, ओर सीरिया की तबाही का सामान भी तबाह हो गया है ,लेकिन वहीँ दूसरी तरफ हमें भी अब भारत में सीरिया जेसी चीखों का डर सताने लगा है, फर्क इतना है की जगह बदल गई है क्यों की डबल श्री ने साफ अल्फाजो में भारत को सीरिया बनाने का बयां दे दिया है,

बरहाल मजलिस के नोजवान शेरों ने अपने जिंदा होने का सबूत दे दिया है, अब आप लोगो का फ़र्ज़ बनता है की उनकी होसला अफजाई करें ओर मर्दे मुजाहिद तुर्की के जांबाज़ एरदोगन के लिए दुआ करें अल्लाह उन्हें उनके नेक इरादों में कामयाब करे, वहीँ मजलिस के कार्यकर्ताओं के लिए भी दुआ करें की उनकी आवाज़ ओर बच्चो की चीखें दुनिया के 55 बहरे हुक्मरानों के कानो में पोह्चें जिनके कानो में अरबी डांस की झंकारें गूंज रही हैं | आप का भाई आसिफ खान